September 20, 2021

आधार कार्ड/ Aadhar Card

आधार कार्ड

क्या है आधार कार्ड | What is An Adhar Card

भारत ने एक पहचान करने वाला सिस्टम अपनाया है जिसे आम तौर पर आधार कार्ड या यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर (यूआईडी) भी कहा जाता है, जो कि भारत में रहने वाले लोगों की सभी ज़रूरतों को पूरा करेगा। यूनीक आइडेंटिफिकेशन सिस्टम कई देशों में लोकप्रिय है क्योंकि यह न सिर्फ लोगों को मूल सुविधाएँ मुहैया करवाता है बल्कि देश की सुरक्षा बढ़ाने में भी मदद करता है। उदाहरण के तौर पर, संयुक्त राज्य अमेरिका में इसी तरह का एक सोशल सिक्योरिटी नंबर नाम का सिस्टम है। यह यूनीक कोड नौ अंकों का एक नंबर होता है जो संयुक्त राज्य अमेरिका के स्थायी नागरिकों के साथ-साथ अस्थायी नागरिकों, जो वहाँ काम करने के लिए रह रहें हैं, दोनों के लिए जारी किया जाता है। भारत ने भी देश में हो रहे विकास के प्रयासों में और तेज़ी लाने के लिए इस तरीके को अपना लिया है और इसलिए भारत में भी आधार कार्ड ज़रूरी कर दिया गया है।

यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण) (UIDAI) को आधार कार्ड को शुरू करने और जारी करने के लिए बनाया गया था। भारत सरकार ने इस एजेंसी की स्थापना जनवरी 2009 में की थी जो कि केंद्र सरकार के तहत काम करती है। भारत की यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (UIDAI) का मक़सद भारत के हर निवासी की बायोमेट्रिक (उँगलियों के निशान और आँखों की पुतलियों की पहचन) के साथ-साथ डेमोग्राफिक(नाम, पता, जन्म-तिथि, फोटोग्राफ आदि) जानकारी इकट्ठा करना है।

डेटा इकट्ठा होने के बाद उसे केंद्रित डेटाबेस सिस्टम में जमा किया जाता है जिसे UID डेटाबेस कहते हैं। भारत की यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी का मुख्य डेटा सेंटर हरियाणा के मानेसर में इंडस्ट्रियल मॉडल टाउनशिप (IMT) में स्थित है जहाँ पर आधार का डेटा स्टोरेज किया जाता है। इसके बाद UIDAI 12 अंकों का यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर या यूआईडी(UID) भारत में रहने वाले लोगों को जारी करता है, जिसे भारत में आधार कार्ड भी कहा जाता है। यह प्रोजेक्ट पूरी दुनिया में सबसे बड़ा राष्ट्रीय पहचान नंबर योजना होने का दावा करता है। आगे बढ़ते हुए, आपको आधार की पूरी जानकारी पैसा बाजार पर मिल जाएगी।

आधार कार्ड के लिए योग्यता | Eligibility for Applying New Aadhar Card

आधार को भारत में रहने वाले लोगों के लिए इसलिए लागू किया गया था जिससे कि वो एक ही पहचान पत्र को कई जगह इस्तेमाल कर सकें। यह सिर्फ एक पहचान पत्र नंबर से कहीं ज्यादा है। हालांकि ऐसी बात नहीं है कि सिर्फ भारतीय आधार कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं । आधार के लिए योग्यता मानदंड इतना भी मुश्किल नहीं है जितना कि सबको लगता है । एक व्यक्ति आधार के लिए आवेदन कर सकता है अगर :

  1. वह भारत में रहने वाला एक भारतीय नागरिक है, या
  2. वह भारत में रहने वाला एक अनिवासी भारतीय/नॉन रेजिडेंट इंडियन है, या
  3. वह भारत में रहने वाला एक विदेशी है
  4. यहाँ तक ​​कि नवजात शिशु भी आधार बनाने के लिए योग्य हैं

नाबालिगों(Minors) के लिए आधार कार्ड

मतदाता पहचान कार्ड के विपरीत आधार कार्ड नाबालिगों के लिए भी जारी किये जा सकते हैं। उन्हें बस पहचान के सबूत के तौर पर अपना बर्थ सर्टिफिकेट (जन्म प्रमाणपत्र) और अपने माँ-बाप का पहचान और पता प्रमाण जमा करना है । नवजात शिशु भी आधार के लिए एनरोल कर सकते हैं ।हालांकि, जैसे ही वे 5 से 15 साल की उम्र में आते हैं उन्हें अपना बॉयोमेट्रिक डेटा अपडेट करना होगा। 5 साल से कम उम्र के बच्चों के आधार कार्ड नीले रंग के होते हैं।

विदेशियों के लिए आधार

आधार भारत की नागरिकता का सबूत नहीं है। इसमें सिर्फ किसी व्यक्ति की पहचान के लिए ज़रूरी जानकारी होती हैं। इस तरह से, जो लोग भारत में रह रहे हैं और चाहे उनके पास किसी और देश की नागरिकता हो, आधार के लिए आवेदन कर सकते हैं और आधार के ज़रिए कईं सुविधाओं का फायदा उठा सकते हैं । हालांकि उन्हें इन सुविधाओं को पाने के लिए पिछले 12 महीनों में 182 दिनों से ज्यादा दिनों तक भारत में रहना होगा। ।इस तरह से, यह बात साफ़ है कि भारत में रहने वाला कोई भी व्यक्ति आधार के लिए आवेदन कर सकता है ।

आधार कार्ड के लिए जरूरी दस्तावेज़

आवेदकों को एनरोलमेंट के समय दो दो दस्तावेज जमा करने होते हैं – पते का प्रमाण (POA) और पहचान का प्रमाण (POI) । UIDAI इनमें से किसी भी दस्तावेज को उस व्यक्ति के पहचान के सबूत के तौर पर स्वीकार करेगा। इन दस्तावेजों में व्यक्ति का नाम और फोटोग्राफ होता है जो पहचान के प्रमाण के तौर पर काम करता है । यहाँ आधार कार्ड के लिए ज़रूरी डाक्यूमेंट्स की लिस्ट दी जा रही है जो आधार के लिए आवेदन करते समय लगते हैं:

  • आवेदक का पासपोर्ट
  • पैन कार्ड
  • राशन कार्ड या PDS फोटो कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • NREGS जॉब्स कार्ड
  • फोटो बैंक एटीएम कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • आवेदक का जन्म प्रमाण पत्र

आधार भारत सरकार द्वारा भारत में रहने वाले सभी लोगों को एक विशेष पहचान नंबर देने के लिए  के लिए शुरू की गई एक योजना है। इसलिए सरकार ने यह सेवा मुफ्त कर दी है और इसके साथ किसी भी तरह के कोई शुल्क जुड़े हुए नहीं हैं। बुनियादी ढांचे (इंफ्रास्ट्रक्चर, लोजिस्टिक्स) और सुविधाओं सहित सभी खर्चे भारत सरकार ही उठाती है। हालांकि, अगर आप अपने आधार कार्ड में जानकारी  अपडेट करना चाहते हैं, तो आवेदक से 50 रुपये का शुल्क / फ़ी  ली जाती  है।

Important Links

New Enrollment Aadhar FormClick Here
Check Aadhar StatusClick Here
Apply for Aadhar Virtual IDClick Here
Official WebsiteClick Here

3 thoughts on “आधार कार्ड/ Aadhar Card

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!